मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन 2019। हरियाणा किसान पंजीकरण।

हरियाणा के लोग कृषि काम के लिए पुरे देश में जाना जाते है। यहां के किसान बहुत पहले से ही कृषि पर नया तरीका और आधुनिक मशीनरी का इस्तेमाल करते आए है। कृषि काम में इतना सक्षम होने के बावजूद किसानों को वह सुविधा नहीं मिल पता है जिनकी जरूरत उनको है। हरियाणा सरकार इसी कमी को दूर करने के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा की शुरुआत किया है। इस के जरिये सरकार सभी किसानों के साथ ऑनलाइन जुड़ना चाहता है और सभी प्रकार के सुविधा, जानकारी, ऋण ऑनलाइन ही प्रदान किया जाएगा।

किसानी से जुड़े सभी चीजों का सुविधा ऑनलाइन पाने के लिए आपको मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा में रेगिस्ट्रशन करना होगा। जब आप fasal haryana में रजिस्ट्रेशन/पंजीकरण करोगे तब आपको अपनी सभी फसल और जमीन की जानकारी भी भरना होगा। इस से सरकार को आपके फसल के बारे में पता चलता रहेगा और सरकार आपको इस फसल से संबंधित जानकारी मोबाइल पर भेजता रहेगा। अगर किसी प्राकृतिक विपत्ति के कारन फसल खराब हो जाता है तो किसानों को मुआवजा मिलने में आसानी होगा अगर वह मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण करा रखा है तो।

कृषि से जुड़े कुछ काम ऐसा भी है जिसको करने के लिए हरियाणा में किसान पंजीकरण करना अनिवार्य है। इस लिए सरकार ने अनुरोध किया है सभी किसान भाई को meri fasal mera byora registration करने के लिए। धीरे धीरे कृषि से जुड़े सभी काम पोर्टल के जरिये ही पूरा हो जाएगा – जैसे की खाद, बीज, दबाई और ऋण का आवेदन ऑनलाइन कर सकते हो।

यह भी पढ़े – सभी किसान को हर महीने मिलेगा 3,000 पेंशन। जल्दी करें अवेदन

Meri Fasal Mera Byora Haryana

‘मेरी फसल मेरा ब्यौरा’ एक ऑनलाइन पोर्टल का नाम है। यह पोर्टल हरियाणा सरकार के कृषि विपणन विभाग ने किसानों के लिए तैयार किया है। इस पोर्टल पर पंजीकरण करके किसान बहुत से सुविधा का लाभ उठा सकता है ऑनलाइन। किसानों को यहां पर अपनी फसल से जुड़े सभी जानकारी मिल जाएगा। फसल का बिजाई, कटाई के समय और मंडी के बारे में भी जानकारी यहां मिल जाएगा।

सबसे अछि बात ये की इस पोर्टल पर किसान अपनी फसल को पंजीकरण करवा पते है। फसल का पंजीकरण करवाने पर किसी प्राकृतिक आपदा-विपदा से फसल ख़राब होने पर मुआवजा पाने में आसानी होता है।

पंजीकरण करने पर कौन कौन से लाभ मिलेगा किसान को

  • किसान अपनी फसल का ब्यौरा यहां पंजीकरण कर सकते है।
  • फसल से जुड़े जरूरी जानकारी समय समय पर किसान को भेजा जाएगा।
  • खाद्य ,बीज ,ऋण और कृषि उपकरणों पर सब्सिडी के लिए आवेदन कर सकते हो।
  • प्राकृतिक आपदा से फसल ख़राब होने पर मुआबजा के लिए आवेदन कर सकते हो।
  • किसानों को किसानी से जुड़े सभी जानकारी एक ही जगे पर मिल जाता है।

जरूरी दस्तावेज पंजीकरण के लिए 

  • आधार कार्ड
  • बैंक की पासबुक की कॉपी
  • जमीन की मुरब्बा नंबर खसरा नंबर

मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा रजिस्ट्रेशन। Fasal Haryana

इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने का तरीका अब हम देखने वाले है। इस से पहले आपको बता दु की मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण को किसान पंजीकरण भी कहा जाता है। पंजीकरण के लिए  किसान के जानकारी, जमीन जानकारी और उस जमीन के फसल जानकारी भी देना होगा – फसल के नाम /किस्में /बुआई का समय।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा में रजिस्ट्रेशन करने के लिए आप fasalhry.in पोर्टल पर चले जाइए। यह ऑफिसियल वेबसाइट है इसका। पोर्टल को खोलकर आपको पंजीकरण (क्लिक करें) पर जाना है।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण

पंजीकरण करने के लिए कुल चार तरह के जानकरी भरना होता है – 1. किसान( काश्तकार) पंजीकरण * (Farmer Registration) 2. फसल का विवरण * (Sowing Land Detail) 3. बैंक विवरण * (Account Details) 4. मंडी/आढ़ती का विवरण।

किसान पंजीकरण में किसान का जानकारी भरने से पहले Mobile/Aadhar No को डालकर OTP से वेरीफाई करना होगा। मोबाइल नंबर डालोगे तो मोबाइल पर SMS से एक कोड आएगा और आधार नंबर डालोगे तो आधार के साथ रेजिस्ट्रेड मोबाइल नंबर पर कोड आएगा। उस OTP कोड को डालते ही वेरीफाई हो जाएगा।

किसान पंजीकरण

अब आपको किसान का विवरण भरना है। किसान का आधार नंबर, मोबाइल नंबर, किसान का नाम, पिता/पत्नी का नाम*, लिंग, ई-मेल आईडी, स्थायी पता भरकर जारी रखें पर क्लिक करदे।

किसान का विवरण

किसान का पंजीकरण ही चूका है। अब आपको फसल का विवरण भरना है। फसल का जानकारी भरने से पहले किसान के जमीन को खोजना है और किस जमीन पर किसान ने कौन से फसल बोया है इसका जानकारी भी भरना है। अगर आप जमीन के मुरब्बा/खसरा नंबर नहीं जानते है तो जमीन के मालिक के नाम से सर्च करें पर क्लिक करके किसान के सभी जमीन को चुन लीजिये, उसके बाद कौन से जमीन पर किस फसल का खेती है और खेती का समय डालकर जारी रखें पर क्लिक करदे। आपके फसल पंजीकरण सम्पूर्ण हो होगा और पंजीकरण नंबर भी आपको भी मिल जाएगा।

बैंक विवरण में आपको किसान का ही बैंक अकाउंट को डालना है। यहां बैंक का नाम, IFSC Code, बैंक खता नंबर, खाता धारक का नाम पहले से ही दिया हुआ होगा। इसके बाद जारी रखें पर क्लिक करदे।

अब मंडी और आढ़ती का जानकारी भरना है। आप अपनी क्षेत्र के सबसे नजदीकी मंडी को चुन लीजिये। इसके बाद आढ़ती चुनना है। आढ़ती को चुनना आवश्यक नहीं है। किसान खुद फसल को मंडी में ले जाना चाहता है तो इसको चुनना जरूरी नहीं है। आप सम्पूर्ण करें पर क्लिक करके पंजीकरण को कम्पलीट करदे।

संपर्क करे
ईमेल आईडी – hsamb.helpdesk@gmail.com

मोबाइल नंबर – 1800-180-2060 (9 am to 7pm)

ऐसे आप meri fasal mera byora में किसान के फसल, बैंक अकाउंट को पंजीकरण किया जा सकता है। कई दिक्कत होता है तो ऊपर ओफ्फिसिल मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी दिया है संपर्क कर सकते हो। आप चाहो तो निचे कमेंट करके भी सवाल पूछ सकते हो।

Updated: 16/08/2019 — 9:06 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *