पारिवारिक लाभ योजना आवेदन 2019। Parivarik Labh Status

उत्तर प्रदेश सरकार के पारिवारिक लाभ योजना किसी गरीब-मजदूर की मृत्यु होने पर उनके फॅमिली को आर्थिक सहायता प्रदान करता है। Parivarik labh yojna में उन परिवारों को सहायता मिलता है जिन के मुखिया तथा एकमात्र कमाऊ व्यक्ति की अचानक से मृत्यु जाता है। ये सहायता सब परिवार को नहीं मिलता, जो आर्थिक रूप से बहुत गरीब है सिर्फ उन्ही को इसका लाभ मिलेगा। राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना (rastriya parivarik labh Yojana) का लाभ लेने के लिए आवदेन कैसे करना है और आवेदन पत्र की स्थिति देखना सीखेंगे।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के जरिये 30,000 हजार रूपए की मदद दिया जाएगा मृतक व्यक्ति के परिवार को। यह आर्थिक सहायता तभी मिलगे अगर मौत होने वाला व्यक्ति ही परिवार के एक मात्र कमाने वाला थे तो। अगर उनके कई बालिग बेटा/बेटी है जो घर का खर्चा उठा सकता है तो उनको इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा। सिर्फ इतना ही नहीं परिवार के आय ज्यादा होने पर भी नेशनल फैमिली बेनिफिट (राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ) का लाभ नहीं मिलेगा।

पारिवारिक लाभ योजना आवेदन

इस योजना का मकसद मृतक व्यक्ति के परिवार को सम्हलने के लिए पैसे की मदद देना। मुआवजा का रकम बहुत ज्यादा तो नहीं है लेकिन जिस परिवार के एक मात्र कमाने वाला व्यक्ति का मौत हो जाता है उनको थोड़ा सहायता तो मिल ही जाएगा। पारिवारिक लाभ योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। आवेदन करने से पहले आपको इस योजना के पात्रता और सभी नियम जान लेना चाहिए।

Rastriya Parivarik Labh Yojana

एक साधारण गरीब परिवार चलने वाला व्यक्ति की जब अचानक से मौत हो जाता है तब उस फॅमिली के ऊपर किया बित्ति है ये सिर्फ वही परिवार समझ सकते है जिनके साथ ऐसा हुआ हो। उनका दुख ना आप – मैं कम सकते है और नहीं सरकार। लेकिन उनको सहायता प्रदान करके तकलीफ को थोड़ा कम किया जा सकता है। उत्तर प्रदेश सरकार ने ठीक एहि काम किया है ‘पारिवारिक लाभ’ योजना के जरिये। इस के जरिये सरकार उनको 30000 हजार रूपए का मुआवजा राशि प्रदान करता है।

इस योजना को यूपी सरकार और केंद्र सरकार दोनों मिलकर चलता है। इस लिए इस को नेशनल फैमिली बेनिफिट स्कीम के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना के लाभ लेने के लिए सरकार ने कुछ पात्रता (Eligibility) रखा है। 

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना पात्रता ?

  • परिवार को उत्तर प्रदेश के स्थायी नागरिक होना चाहिए।
  • मृतक व्यक्ति के उम्र 18 – 60 होना चाहिए, तभी उनके परिवार मुआवजा राशि के लिए आवेदन कर सकता है।
  • परिवार का नाम  UP BPL List में होना चाहिए।
  • सरकार इस में फॅमिली के वार्षिक आय सीमा निर्धारित किया है, इसके ऊपर आय होने पर मृतक परिवार को मुआवजा नहीं मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्र के लिए आय सीमा 46,080 और शहरी क्षेत्र के लिए आय सीमा 56,450 रखा गया है। 

जरूरी दस्तावेज कौन से चाहिए

आवेदन करते समय दो लोगो के दस्तावेज देना होगा – फॅमिली में से जो आवेदन कर रहा है (आवेदक) और मृतक का विवरण। सभी दस्तावेज के डिजिटल कॉपी ऑनलाइन आवेदन करते समय अपलोड करना होगा।

  1. परिवार में से जो आवेदन कर रहा है उनका फोटो
  2. आवेदक का आधार कार्ड
  3. फॅमिली आय-प्रमाण पत्र
  4. बैंक पासबुक कॉपी
  5. आवेदक का Signature अपलोड करना होता है
  6. मृत्यु प्रमाण पत्र का कॉपी
  7. आवेदक का Signature अपलोड करना होगा

पारिवारिक लाभ योजना के लिए आवेदन करें

मृतक व्यक्ति के परिवार में कई भी आवेदन कर सकता है मुआवजा के लिए – माता, पिता, पत्नी, पति, पुत्र, पुत्री भाई, बहन। आवेदन फॉर्म ऑनलाइन जमा किया जा सकता है। ऑनलाइन पारिवारिक लाभ फॉर्म जमा करने से मुआवजा जल्दी मिल जाता है।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना में आवेदन करने के लिए उत्तर प्रदेश समाज कल्याण विभाग के वेबसाइट पर जाना होगा – http://nfbs.upsdc.gov.in/। इस पोर्टल पर आपको योजना से जुड़े सभी चीज़े मिल जाएगा। नई आवेदन करने के लिए नया पंजीकरण पर क्लिक करदे।

पारिवारिक लाभ योजना

अब आपके सामने राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के ऑनलाइन फॉर्म खुल जाएगा। आर्थिक लाभ पाने के लिए आवेदक और मृतक को सभी जानकारी सही से यहां भरना होगा। इस फॉर्म में तीन तरह के जानकारी भरना होता है – आवेदक का विवरण, बैंक खाते का विवरण, मृतक का विवरण। 

आवेदक का विवरण – मृतक के परिवार में से जो मुआवजा का आवेदन कर रहा उसका जानकारी देना है। जैसे की नाम, पिता / पति का नाम, पहचान पत्र कि फ़ोटोकॉपी, वार्षिक आय, मोबाइल नं०, श्रेणी, लिंग यह सब भरना है।

बैंक खाते का विवरण – यहां आवेदक के बैंक डिटेल भरना है। जिस बैंक में आप मुआवजा का पैसा लेना चाहते हो उसके बैंक का नाम, बैंक शाखा का नाम, आई एफ एस सी कोड (ifsc code), अकाउंट नंबर डाल दीजिये।

मृतक का विवरण –  जिस व्यक्ति की मौत हुआ है यहां उनका जानकारी देना है। जानकारी में मृतक का नाम, मृत्यु प्रमाण पत्र संख्या, मृत्यु का कारण, आवेदक का मृतक से सम्बन्ध, मृत्यु प्रमाण पत्र और आवेदन का एक Signature कागज में लिखकर स्कैन कॉपी अपलोड करना है।

ऊपर बताया गया सभी जानकारी को भरने के बाद Verify के बॉक्स पर ऊपर लिखा हुआ कोड डालकर और Ο मैं प्रमाणित करता…. के आगे ✔ करके SUBMIT FORM पर क्लिक करदे।

फॉर्म सबमिट करते ही आपका आवेदन पत्र सफलतापूर्वक जमा हो जायेगा। लेकिन अभी भी थोड़ा काम बाकि है। जैसे ही आप SUBMIT FORM पर क्लिक करते ही अब तक अपने जो जो जानकारी भरी है वह सब एक पेज में भरकर आ जाएगा। इस के निचे Print और Print Receipt का ऑप्शन होगा, उनपर क्लिक करके Form और Receipt दोनों का प्रिंट आउट निकल लेना है।

नोट ऑनलाइन फॉर्म जमा करने के बाद अपने जिस आवेदन पत्र का प्रिंट निकले थे उसको और सभी दस्तावेज (जिनको अपने अपलोड किया है) के हार्ड कॉपी उप-जिलाधिकारी कार्याल्‍य में जमा होगा। ऑनलाइन आवेदन करने के बाद जब तक आप कार्याल्‍य में जाकर अपने आवेदन का कॉपी जमा नहीं करोगे तब तक उसपर काम शुरू नहीं होगा। सब कुछ हो जाने के बाद पारिवारिक लाभ स्टेटस चेक करके देख सकते हो की मुआवजा आवेदन मंजूर हुआ या नहीं।

Parivarik Labh Status

आवेदन पत्र जमा करने के कुछ दिन बाद राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना आवेदन की स्थिति चेक किया जा सकता है। इस के लिए आप सीधे चले जाइए – http://nfbs.upsdc.gov.in/Search_Pensioner_nfbs_new.aspx पर। इसके बाद डिस्ट्रिक्ट और Account No. / Register No डालकर स्टेटस देख सकते हो। अकाउंट और रजिस्टर नंबर आपको Receipt में देखने को मिल जायेगा।

संपर्क सूत्र
Help Line Toll-Free Number – 18004190001

देखा आपने  कितनी आसानी से पारिवारिक लाभ योजना आवेदन किया जा सकता है। फिर भी अगर आपको कुछ प्रॉब्लम आता है तो ऊपर दिए मोबाइल नंबर पर संपर्क कर सकते हो। या फिर आप निचे कमेंट करके भी हम से पूछ सकते हो।

Updated: 20/08/2019 — 3:18 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *