भारतीय संस्कृति में लड़की के शादी को पुन्ने की काम माना जाता है और सभी माता पिता का सपना होता है उनके बेटी का विवाह बहुत धूम धाम से हो। लेकिन जो गरीब, सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के लोग होते है उनके पास इतना पैसा नहीं होता की वह अपने बेटी का विवाह अच्छे तरीके से कर सकते। इसी वजह से यूपी सरकार अपने लोगो के लिए Shadi Anudan Yojana की शुरुआत क्या है। इस योजना के मदद से गरीबी रेखा के निचे जो परिबार है उनके बेटी के विवाह के समय शादी अनुदान दिया जायेगा। सीधी भाषा में बोलू तोह गरीब और सामान्य वर्ग के परिबार का लड़की शादी के लिए आर्थिक मदद दिया जायेगा।

अगर आप एक गरीब परिबार में रहते हो तोह आपको पता होगा की गरीब माता-पिता अपने बेटी के शादी को लेकर कितनी दिक्कत का सामना करती है। कुछ कुछ लोग अपनी सारी जिंदगी के कमाई अपने बेटी के शादी में लगा देते है और कुछ लोग ऐसे भी है जो अपनी खेती बारी के जमीन को बेचकर बेटी केविवाह करबाते है। sadi anudan योजना आने के बाद ऐसे लोगो को अपनी जमीन बेचने की जरुरत नहीं पढ़ेगा। उत्तर प्रदेश सरकार अबसे सभी गरीब परिबार का दो बेटी के शादी के लिए आर्थिक मदद करेगा।

shadi anudan online

लड़की के विवाह का अनुदान पाने के लिए आपको Shadi Anudan Online आवेदन करना होगा। आप अपनी मोबाइल/कंप्यूटर के मदद से vivah anudan लेने का आवेदन कर सकते हो। शादी अनुदान योजना के आवेदन करना बहुत ही आसान और फ्री है। इस पोस्ट पर आपको मैं sadi anudan apply करने का पूरी प्रोसेस बताऊंगा। एक बात याद रखे शादी अनुदान का ऑनलाइन अवेदन करने के बाद जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में आवेदन पत्र की प्रति डाउनलोड करके ३० दिन के अंदर जमा करना होगा जरूरी दस्ताबेज के साथ

इस योजना से हर शादी के लिए 20,000 हजार का आर्थिक मदद दिया जायेगा, यह पैसा आप अपनी बेटी के विवाह के लिए खर्च कर सकते हो। एक परिबार के सिर्फ 2 लड़कियाँ को ही आर्थिक मदद दिया जायेगा। यह पैसा सीधे लाभार्थी बैंक खाते में ट्रांसफर हो जायेगा आपके आवेदन को सरकार के तरफ से स्वीकार करने के बाद।

शादी अनुदान का अप्लाई करने से पहले आपको इसके सभी नियम और शर्तें के बारे में पता कर लेना चाहिए। जैसे लड़की के उम्र कितना होना चाहिए, परिबार के इनकम कितना होना चाहिए अनुदान पाने के लिए, अनुदाम के पैसे कहा से मिलेगा, अनुदान के रूप में आपको कितना पैसे मिलगे।

शादी अनुदान का नियम और शर्तें

  • vivah anudan पाने के लिए लड़की के उम्र 18 वर्षों और वर का 21 वर्षों होना चाहिए।
  • इस योजना से सिर्फ सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग – अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी – अल्पसंख्यक वर्ग श्रेणी के लोगो ही मदद दी जाएगी
  • विवाह अनुदान के लिए परिबार का इनकम  0-56,460 कृपय प्रति वर्ष(शहरी क्षेत्र) और 0-46080 कृपय प्रति वर्ष(ग्रामीम क्षेत्र) से ज्यादा नहीं होना चाहिए।
  • वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिला पेंशन, विकलांग योजना और समाजवादी पेंशन योजना के आय इनकम में जोड़ना जरूरी नहीं है।
  • एक परिबार के अधिकतम 2 पुत्रियों को भी मदद मिलेगा।

Sadi Anudan Requirement Document

ऑनलाइन शादी अनुदान आवेदन फॉर्म में आप जो जो डॉक्यूमेंट अपलोड करोगे वह सब आपको जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में भी जमा करना होगा।

  • आवेदक और पु़त्री का पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक पासबुक कॉपी
  • शादी के प्रमाण पत्र/कार्ड की फ़ोटोकॉपी
  • जन्म प्रमाण पत्र कॉपी
  • जाति -प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पु़त्री की उम्र की प्रमाण पत्र

शादी अनुदान – Shadi Anudan Online Apply

यूपी सरकार की योजना शादी अनुदान का लाभ अपने बेटी को दिलाने के लिए माता/पिता को आवेदन करना होगा। vivah anudan (विवाह अनुदान) आवेदन आप ऑनलाइन कर सकते हो। इसके लिए यूपी सरकार shadianudan.upsdc.gov.in के नाम से एक पोर्टल भी शुरू कर दी है।

शादी अनुदान योजना का आवेदन करना बहुत ही आसान है। shadi anudan online apply करने के लिए आप सबसे पहले इस पोर्टल- http://www.shadianudan.upsdc.gov.in/ को ओपन कर लीजिये। शादी अनुदान पोर्टल के नया पंजीकरण करने सेक्शन पर आपको तीन श्रेणी के जाति का नाम दिखेगा – सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग आवेदन , अन्य पिछड़ा वर्ग श्रेणी आवेदन , अल्पसंख्यक वर्ग श्रेणी आवेदनआप जिस जाति के अंदर आते हो उसपे ऊपर क्लिक कर दीजिये। आप जिस जाति को चुनेंगे उसका प्रमाण पत्र आपके पास होना चाहिए। मैं यहां पर सामान्य, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति वर्ग आवेदन को चुन रहा हु।

shadi anudan का पोर्टल

जैसे ही आप तीन ऑप्शन में से किसी एक को चुनेंगे आपके सामने एक फॉर्म ओपन हो जायेगा, इस को आप शादी अनुदान फॉर्म भी कह सकते है। यहां पर आपको आवेदन और उनके बेटी (जिसके लिए अनुदान  मांग रहे हो) की जानकारी देना होगा इस फॉर्म को हमने तीन भाग में बटा है क्यूंकि फॉर्म बहुत लम्बा था।

⇒ मप भूमि नक्शा खसरा – भू नक्शा मध्यप्रदेश 
⇒ Bhu Naksha Uttar Pradesh

शादी अनुदान फॉर्म के पहला भाग -1 में आपको पु़त्री की शादी की तिथि, आवेदक की जानकारी, पु़त्री की जानकारी, जाति -प्रमाण पत्र संख्या जैसे और भी बहुत जानकारी भरना होगा। इसके साथ आपको आवेदक और पु़त्री का फोटो (केवल जेपीईजी / जेपीजी 20 KB तक) और आवेदक का आधार कार्ड फ़ोटोकॉपी अपलोड करना होगा।

शादी अनुदान योजना
भाग -1

इस भाग -2 में आपको शादी का विवरण और वार्षिक आय का विवरण देना होगा जैसे की वर का नाम, पता, पु़त्री की जन्मतिथि, पु़त्री और वर की आयु भरना होगा। पु़त्री के उम्र सत्यापित करने के लिए आपको जन्म प्रमाण पत्र (कई ऐसा दस्ताबेज जिसमे उम्र लिखा हो) और शादी का कार्ड अपलोड करना होगा। इसके साथ साथ आपको वार्षिक आय का विवरण सेक्शन पर आवेदक का पेंशन चुनना है, अगर पेंशन नहीं मिला है तोह नहीं को चुन लीजिये।

शादी का विवरण
भाग -2

अब आपको बैंक का विवरण देना है भाग -3 पर। आप जिस बैंक अकाउंट में शादी अनुदान का पैसा लेना चाहते हो उस बैंक खता की जानकारी और बैंक पासबुक के फोटोकॉपी भी अपलोड कर दीजिये। लास्ट में आप ऊपर लिखा गया कोड टाइप करें के बॉक्स पर कोड डालकर जमा करे पर क्लिक करदे डाल। फॉर्म जमा करने से पहले पुरे फॉर्म को दुबारा चेक जरूर चेक करले।

बैंक का विवरण
भाग -3

नोट – ऑनलाइन फॉर्म जमा करने के बाद आपको एक Registration number मिलेगा और एक पत्र डाउनलोड करने की ऑप्शन मिलेगा उसको डाउनलोड कर लीजिये। इस पत्र के साथ आवेदक और पु़त्री के सभी दस्ताबेज को जोड़कर जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय में जमा कर दीजिये। सब कुछ सही होने पर आपको 20-30 दिन के अंदर अनुदान का पैसा बैंक अकाउंट जमा कर दिया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here